contact less card

Enter your email address: कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई भी अवश्य करें

कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई करें

बिषय सूची

नमस्कार दोस्तों आशा करता हूं आप सब ठीक होंगे आज हम बात करते हैं कॉन्टैक्टलेस कार्ड या वाईफाई कार्ड contactless card india

 की दोस्तों कॉन्टैक्टलेस कार्ड contactless card india

एनएफसी यानी कि नियर फील्ड कम्युनिकेशन पर आधारित होता है !

आखिर कैसे वर्क करता है CONTACTLESS CARD contactless visa card कांटेक्ट लेंस कार्ड how to use contactless card – कांटेक्ट लेंस कार्ड से ट्रांजैक्शन करने के लिए इसे पीओएस मशीन में स्वाइप या डिप करने की आवश्यकता नहीं होती CONTACTLESS CARD कार्ड को पीओएस टर्मिनल के सामने हल्का सा टच करना होता है या इसके सामने हिलाना होता है असल में CONTACTLESS CARD कांटेक्ट लेंस कार्ड एनएफसी टेक्नोलॉजी पर कार्य करता है जिससे पेमेंट डिवाइस नजदीकी दायरे में रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन के कांटेक्ट में आ जाते हैं यह ब्लूटूथ या वाईफाई के जैसा ही कार्य करता है कम से कम 4 सेंटीमीटर के दायरे में एनएफसी आधारित चीजों के बीच कम्युनिकेशन होने लगता है !

pos machine

कैसे पहचाने CONTACTLESS CARD कॉन्टैक्टलेस या वाईफाई कार्ड को-जिस तरह आप नीचे इमेज के दाएं तरफ देख पा रहे होंगे CONTACTLESS CARD कार्ड पर वाईफाई का साइन बना हुआ है जिस भी कार्ड पर यह वाईफाई का निशान होगा वह CONTACTLESS CARD कॉन्टैक्टलेस कार्ड या वाईफाई कार्ड होगा

जिस तरह हर सिक्के के दो पहलू होते हैं उसी तरह इसकी भी अच्छाइयां और बुराइयां हैं इस कार्ड की अच्छी बात यह है की ट्रांजैक्शन करने के लिए आपको CONTACTLESS CARD कार्ड किसी के हाथ में देने की आवश्यकता नहीं है आप चाहे तो अपने पर्स के अंदर ही रख कर अपने पर्स को POS मशीन से टच करके ही पेमेंट  कर सकते हैं

क्या वाकई सेफ है CONTACTLESS CARD

contactless card advantages and disadvantages


CONTACTLESS CARD कार्ड इशू करने वाली कंपनियो तथा बैंकों का का कहना है अगर इन CONTACTLESS CARD कार्डों के डाटा चुरा भी लिए गए तो इनका प्रयोग धोखाधड़ी में नहीं हो सकता क्योंकि इनमें कई सिक्योरिटी लेयर होते हैं CONTACTLESS CARD कार्ड के डाटा चुराई नहीं जा सकती हालांकि फॉरेंसिक एक्सपर्ट कहते हैं यह दावा पुख्ता नहीं है इंटरनेट से फ्री में स्कीमिंग ऐप डाउनलोड करके इनकी डाटा चुराए जा सकते हैं

कैसे रखें अपने CONTACTLESS CARD कार्ड को ज्यादा सेफCONTACTLESS CARD कार्ड इशू करने वाली कंपनियां तथा बैंक कार्ड होल्डर के लिए जीरो लायबिलिटी पॉलिसी ला रही हैं जिसमें कार्ड होल्डर किसी भी गैर अधिकृत ट्रांजैक्शन के लिए जिम्मेदार नहीं होंगे कुछ बैंक ₹100000 एक लाख तक रिस्क कवर कर रहे हैं एक्सपर्ट CONTACTLESS CARD कॉन्टैक्टलेस कार्ड को ज्यादा सुरक्षित रखने के लिए इसे एल्युमीनियम फाइल स्टील केस में रखने की सलाह देते हैं


क्या सचमुच बिना पिन डालें ट्रांजैक्शन किया जा सकता है-
जी हां बिल्कुल सही पढ़ा आपने जब भी आप ₹2000 तक का ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपको पिन डालने की जरूरत नहीं है दो दो हजार के लगातार 5 ट्रांजैक्शन बिना पिन के होने पर CONTACTLESS CARD कार्ड अपने आप लॉक कर दिया जाएगा तथा ₹2000 से ऊपर पेमेंट के लिए आपको पिन डालना अनिवार्य रहेगा आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी आप हमें कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं तथा अपने दोस्तों के साथ ही इस महत्वपूर्ण जानकारी को शेयर कर सकते हैं धन्यवाद

 contactless visa cardhow do contactless cards workcontactless cards securityhow to use contactless cardcontactless card advantages and disadvantagescontactless card safety

आपको यह भी पसंद आ सकता है

 

contactless card india 

Enter your email address: कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई भी अवश्य करें

कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई करें

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here